सुनसान था सफ़र इस दुनिया की भीड़ में,
लगता था नहीं है कोई अपना मेरी तक़दीर में,
फिर जब बने दोस्त तुम मेरे तो एहसास हुआ,
कुछ ख़ास ही लिखा था खुदा ने मेरे हाथों की तक़दीर में।

Click to copy

अपनी दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस क़दर करें हम,
अगर तुम भूल भी जाओ तो भी हर पल याद करें हम,
ख़ुदा ने सिखाया है बस इतना ही,
कि खुद से पहले तुम्हारे लिए दुआ करें हम।

Click to copy

हर लम्हा दोस्ती का है इरादा तुमसे,
हमें अपनापन ही है कुछ ज्यादा तुमसे,
साथ देंगे तुम्हारा पूरी ज़िन्दगी के लिए,
हमेशा अपनी दोस्ती निभाएंगे है ये वादा तुमसे|

Click to copy

आपकी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफ़ान मचा देंगे,
दिलों के सारे अरमान सजा देंगे,
अगर जो दो दोस्ती में ज़िन्दगी भर साथ हमारा,
तो दोस्ती की कसम मौत को भी पीछे भगा देंगे।

Click to copy

संगीत की जरूरत हर महफ़िल में होती है,
मोहब्बत की जरूरत हर एक दिल में होती है,
बिना दोस्तों के है अधूरा है यह जीवन,
क्योंकि उनकी जरूरत हर एक पल में होती है।

Click to copy

चर्चा हुई जब ऊपरवाले की मेहरबानियों की,
तो मैंने खुद को बेहद ख़ुशनसीब पाया,
जब ज़िन्दगी में जरूरत पड़ी एक अच्छे दोस्त की,
ऊपरवाला खुद ही दोस्त बनकर चला आया|

Click to copy

ऐ दोस्त तुम्हारी दोस्ती पर नाज़ करता हूँ,
मिलने की तुमसे हर समय ख़ुदा से फ़रियाद करता हूँ,
मुझे नहीं पता घरवाले कहते हैं,
कि मैं नींद में भी तुमसे ही बात करता हूँ।

Click to copy

मैं वो नहीं जो तुझे दुःख में छोड़ दूंगा,
मैं वो नहीं जो तुझसे रिश्ता तोड़ दूंगा,
मैं वो हूँ जो थम जाए साँसे तेरी अगर,
तो अपनी भी साँस छोड़ दूंगा|

Click to copy